वास्तुशास्त्र: घर के दरवाजे कैसे तय करते हैं आपका सौभाग्य, जानिए

वास्तुशास्त्र: घर के दरवाजे कैसे तय करते हैं आपका सौभाग्य, जानिए

हर मनुष्य अपने जीवन में सुख शांति और समृद्धि की इच्छा रखता हैं वही जिसके लिए वह कड़ी मेहनत भी करता हैं मगर उसे सफलता हासिल नहीं हो पाती हैं, वही बात चाहे सौभाग्य की करें या फिर दुर्भाग्य की, मनुष्य के जीवन में दोनों का ही प्रवेश घर के मेन गेट से ही होता हैं

वास्तुशास्त्र के मुताबिक घर के दरवाजे का संबंध मनुष्य के सौभाग्य से जुड़ा हुआ माना जाता हैं कहा जाता हैं कि घर के मुख्य द्वार के आसपास अगर टूटे फूटे बर्तन या कोई भारी वस्तु रखी हुई हैं तो ऐसे घर में देवी देवताओं का प्रवेश नहीं होता हैं


वास्तु शास्त्र के मुताबिक घर बनवाते समय मनुष्य को कई सारी चीजों का ध्यान रखना पड़ता हैं जिनमें से एक हैं घर का दरवाजा। वास्तु के मुताबिक किस दिशा में घर के दरवाजे होने चाहिए। आज हम आपको इसी के बारे में बताने जा रहे हैं जिससे घर में सुख शांति बनी रहे तो आइए जानते हैं।

अगर आपके घर का दरवाजा पूर्व दिशा में हैं तो वास्तु के अनुसार यह शुभ हैं मगर इस बात का खास ध्यान रखें। कि दरवाजे के सामने कोई अवरोध नहीं होना चाहिए। वरना मनुष्य के कर्म में डूबने की अधिक आशंका होती हैं। वही कोशिश करें कि दरवाजा पश्चिम दिशा में ना हो। ऐसा होने से घर की सुख समृद्धि समाप्त होने लगती हैं

दक्षिण दिशा में दरवाजा होने से परिवार के सदस्यों को लंबे वक्त तक धन से जुड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता हैं वही अगर आपके घर का दरवाजा आग्नेय कोण में हैं तो यह आपके ​परिवार के सदस्यों की सेहत पर बुरा प्रभाव डाल सकता हैं।

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Linkedin Join us on Linkedin Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS