टिक टॉक: गूगल ने टिक टॉक को निकाल फेंका, ट्विटर यूजर्स ने ‘सेलिब्रिटी’ बने लोगों का जमकर उड़ाया मजाक

टिक टॉक: गूगल ने टिक टॉक को निकाल फेंका, ट्विटर यूजर्स ने ‘सेलिब्रिटी’ बने लोगों का जमकर उड़ाया मजाक

नई दिल्ली: मद्रास हाई कोर्ट के आदेश के बाद गूगल ने प्ले स्टोर से चीनी वीडियो शेयरिंग एप टिक टॉक हो हटा दिया है।

अब ये एप आपको प्ले स्टोर पर नहीं मिलेगा।


हालांकि जिन यूजर्स ने इस एप को पहले से डाउनलोड कर रखा है, वह इसका इस्तेमाल पहले की तरह ही कर सकेंगे।

वहीं सोशल मीडिया साइट ट्विटर पर लोगों ने टिक टॉक के हटाए जाने के बाद कई ट्वीट किए।

एक यूजर ने टिक टॉक बैन होने पर लिखा- टिक टॉक समाज पर वास्तव में कलंक था।

भारत में टिक टॉक बैन होने बाद थानोस और स्पाइडर मैन का रिएक्शन।

टिक टॉक एप से जुड़े एक मामले में सुनवाई करते हुए 3 अप्रैल को मद्रास हाई कोर्ट ने केंद्र सरकार को इस एप पर बैन लगाने का निर्देश दिया था।

सोमवार को सुप्रीम कोर्ट ने हाई कोर्ट के फैसले पर स्टे नहीं लगाया।

जबकि मंगलवार को मद्रास हाई कोर्ट ने टिक टॉक एप को राहत नहीं दी।

इस मामले में कोर्ट अगली सुनवाई 24 अप्रैल को करेगा।

कोर्ट ने वरिष्ठ अधिवक्ता अरविंद दातार को इस मामले में इंडिपेंडेंट काउंसेल नियुक्त किया है।

बता दें कि टिक टॉक एप पर हाई कोर्ट ने ये फैसला पॉर्नोग्राफिक कटेंट मौजूद होने के कारण दिया था।

कोर्ट ने अपना फैसला कायम रखा है।

हालांकि कोर्ट के फैसले के बाद गूगल ने प्ले स्टोर से टिक टॉक एप को हटा दिया है।

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Linkedin Join us on Linkedin Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS