ये है भारत के 5 सबसे शिक्षित राज्य, पहला नाम जानकर यकीन नहीं करोगे

ये है भारत के 5 सबसे शिक्षित राज्य, पहला नाम जानकर यकीन नहीं करोगे

5. गोवा

गोवा भारत का पांचवा सबसे शिक्षित राज्य माना जाता है। बता दें क्षेत्रफल के हिसाब से भारत का सबसे छोटा और जनसंख्या के हिसाब से चौथा सबसे छोटा राज्य है। गोवा की साक्षरता दर 87.40% है। अगर बात 2001 की जाये तो तब गोवा भारत का चौथा सबसे शिक्षित राज्य था।


4. त्रिपुरा

त्रिपुरा को भारत का चौथा सबसे शिक्षित राज्य माना जाता है। यहाँ मुख्य रूप से बंगाली, ककबरक और अंग्रेजी भाषाएँ बोली जाती हैं। त्रिपुरा की कुल साक्षरता दर 87.75% है, जो कि पिछले कुछ सालों में बड़ी तेजी से बढ़ी है। त्रिपुरा 1956 में भारतीय गणराज्य में शामिल हुआ और 1972 में इसे पूर्ण राज्य का दर्जा मिला।

3. मिजोरम

मिजोरम को भारत का तीसरा सबसे शिक्षित राज्य माना जाता है। बता दें मिजोरम की साक्षरता दर 91.58% है। 20 फरवरी 1987 को गठित यह राज्य आज 8 ज़िलों के साथ नए कीर्तिमान स्थापित कर रहा है, फिर बात चाहे शिक्षा की हो या किसी भी अन्य क्षेत्र की, यह राज्य छोटा और सुदूर होने के बावजूद खूब तरक़्क़ी कर रहा है।

2. लक्ष्यदीप

लक्षद्वीप भारत का दूसरा सबसे शिक्षित राज्य है। यहाँ की साक्षरता दर 92.28% है। भारत के सभी केंद्र शासित प्रदेशों में लक्षद्वीप सब से छोटा राज्य है। लक्षद्वीप-समूह की उत्तपत्ति प्राचीनकाल में हुए ज्वालामुखी विस्फोट से निकले लावा से हुई है। यह भारत की मुख्यभूमि से लगभग 300 कि॰मी॰ दूर पश्चिम दिशा में अरब सागर में स्थित है। मात्र 32 किलोमीटर में फैला यह राज्य, सिर्फ़ 64,473 जनसंख्या के साथ देश का दूसरा सबसे शिक्षित राज्य है।

1. केरल

केरल को भारत का सबसे शिक्षित राज्य माना जाता है। बता दें केरल की वर्तमान साक्षरता दर 93.91% है। केरल की शिक्षा व्यवस्था भारत के अन्य राज्यों की तुलना में ज्यादा आधुनिक है। केरल के विकास मॉडल में शिक्षा और स्वास्थ्य का महत्वपूर्ण स्थान है। केरल में स्कूल, कॉलेजों का संचालन राज्य सरकार या फिर निजी संगठन करते हैं। केरल की शिक्षा व्यवस्था भारत के अन्य राज्यों की तुलना में ज्यादा आधुनिक है।

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Linkedin Join us on Linkedin Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS