10th – 12th की परीक्षा प्रणाली में सुधार के लिए होगा बड़ा बदलाव

10th – 12th की परीक्षा प्रणाली में सुधार के लिए होगा बड़ा बदलाव

छात्रों में क्रिएटिविटी और विश्लेषण की क्षमता को बढ़ावा देने के लिए केंद्रीय बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन (सीबीएसई) वर्ष 2023 तक 10 वीं और 12 वीं परीक्षा 10 वीं और 12 वीं परीक्षा के परीक्षा पत्रों के फॉर्मेट में बड़ा बदलाव करने जा रहा है। जब की जरूरत को ध्यान में रखते हुए ऐसा निर्णय लिया गया है।

इस साल जहां 10वीं क्लास के स्टूडेंट्स को 20 पर्सेंट ऑब्जेक्टिव सवालों को हल करना होगा, वहीं 10 फीसदी सवाल क्रिएटिव आइडियाज पर बेस्ड होंगे। 2023 तक 10वीं और 12वीं के प्रश्नपत्र रचनात्मकता, आलोचनात्मक और विश्लेषण पर आधारित होंगे।


भारत में व्यावसायिक विषयों को ज्यादा स्टूडेंट्स नहीं मिलते हैं। ऐसा रोजगार की कमी, बाजार की स्थिरता की कमी और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा नहीं होने की वजह से होता है। एक्सपर्ट का मानना है कि शिक्षा प्रणाली के बुनियादी ढांचे, टीचर्स, पैरेंट्स और स्टूडेंट्स के बीच आपसी संबंध को बढ़ावा देने की बेहद जरूरत है। नई शिक्षा नीति का लक्ष्य व्यावसायिक विषयों और मुख्य विषयों के बीच के अंतर को भरना है।

गेट-2020 का एग्जाम शेड्यूल जारी

इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, दिल्ली ने ग्रेजुएट एप्टीट्यूड टेस्ट इन इंजीनियरिंग का शेड्यूल जारी कर दिया है। इस शेड्यूल को आप आईआईटी गेट की ऑफिशल वेबसाइट पर देख सकते हैं। बता दें कि गेट- 2020 एग्जाम में इस साल करीब 8.6 लाख आवेदकों ने रजिस्ट्रेशन कराया है।

यह परीक्षा 8 सेशन और 25 विषयों में आयोजित की जाएगी। परीक्षा का आयोजन दो शिफ्ट में किया जाएगा। पहली शिफ्ट सुबह 9.30 से दोपहर 12.30 बजे तक होगी, वहीं दूसरी शिफ्ट दोपहर 2.30 बजे से शाम 5.30 बजे तक होगी। परीक्षा केंद्र और टाइमिंग और डेट आदि की पूरी जानकारी प्रत्येक आवेदक के एडमिट कार्ड पर दी जाएगी। गेट परीक्षा 2020 के एडमिट कार्ड 3 जनवरी को जारी कर दिए जाएंगे।

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Linkedin Join us on Linkedin Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS