देखें रौशनी में नहाये गुरुद्वारा साहिब करतारपुर की कुछ ख़ास तस्वीरें

देखें रौशनी में नहाये गुरुद्वारा साहिब करतारपुर की कुछ ख़ास तस्वीरें

पाकिस्तान स्थित गुरूद्वारे करतारपुर साहिब की कुछ ख़ास तस्वीरें रिलिजन वर्ल्ड आपके साथ साझा कर रहा है. देखिये रौशनी में नहाये करतारपुर गुरूद्वारे की खूबसूरती देखते ही बनती है

करतारपुर साहिब सिखों के सबसे पवित्र तीर्थस्थलों में से एक है। इस गुरुद्वारे में सिखों के सबसे पहले गुरु, गुरु नानक देवजी का निवास स्थान मौजूद था। उनकी मत्यु के बाद उनकी याद में यहां पर गुरुद्वारा बनाया गया। इतिहास की मानें तो गुरुनानक देवजी अपनी सबसे प्रसिद्ध 4 यात्राओं को पूरा करने के बाद साल 1522 में यहीं करतारपुर साहिब में बस गए थे। नानक साहिब ने अपने जीवन काल के अंतिम 17 वर्ष यहीं बिताए थे।


सिख धर्म की स्थापना करतारपुर में हुई थी-
गुरुनानक देव जी के साथ उनका पूरा परिवार करतारपुर में ही आकर बस गया था। यही उन्होंने पहली बार सिख धर्म की स्थापना की थी। गुरुनानक देव जी ने रावी नदी के किनारे सिखों के लिए नगर बसाकर उन्हें यही पहली बार ‘नाम जपो, किरत करो और वंड छको’ (नाम जपें, मेहनत करें और बांटकर खाएं) का उपदेश दिया था।

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Linkedin Join us on Linkedin Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS