‘चौकीदार चोर है’ वाले बयान पर राहुल गांधी को सुप्रीम कोर्ट का नोटिस

‘चौकीदार चोर है’ वाले बयान पर राहुल गांधी को सुप्रीम कोर्ट का नोटिस

नई दिल्‍ली। बीजेपी नेता मीनाक्षी लेखी  की अवमानना याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट  ने सोमवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी  को नोटिस जारी कर दिया।

राहुल गांधी को 22 अप्रैल तक नोटिस का जवाब देना है।


कोर्ट का यह नोटिस राफेल डील पर दस्‍तावेजी सबूत को लेकर पिछले दिनों आए फैसले के बाद ”चौकीदार चोर है”, वाले बयान पर जारी किया गया है.

चीफ जस्टिस रंजन गोगोई  ने यह भी कहा, हमने फ़ैसले में ऐसा कोई कमेंट नहीं दिया है।

हमारा फैसला सिर्फ याचिकाकर्ताओं की ओर से पेश दस्तावेजों की स्वीकार्यता के क़ानूनी पहलू तक सीमित था।

मीनाक्षी लेखी की याचिका मेंराहुल गांधी द्वारा सुप्रीम कोर्ट के फैसले को तोड़-मरोड़कर पेश करने का आरोप लगाया गया है।

10 अप्रैल को राफेल डील  मामले से जुड़े लीक दस्तावेजों पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई करने को कहा था।

राफेल डील के दस्तावेज लीक मामले में सुप्रीम कोर्ट ने सरकार की किसी भी दलील को मानने से इनकार कर दिया था।

यहां से शुरू हुआ था बवाल

राफेल डील की जांच के लिए सुप्रीम कोर्टके पहले के फैसले के खिलाफ पुनर्विचार याचिका दायर की गई थी।

दक्षिण भारत के एक बड़े अंग्रेजी दैनिक ने रक्षा मंत्रालय की नोटिंग छाप दी थी।

उसमें ये बताया गया था कि किस तरह से पीएमओ ने रक्षा मंत्रालय की आपत्तियों को दरकिनार कर दिया था।

तब सरकार ने इस संबंध में कहा था कि ये ऑफिशियल सीक्रेट एक्ट  का मामला है।

चुराए गए दस्तावेजों को सबूतों के तौर पर नहीं पेश किया जा सकता है।

हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने सरकार की यह बात नहीं मानी।

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Linkedin Join us on Linkedin Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS