सऊदी की पेट्रोलियम कंपनी ला रही है दुनिया का सबसे बड़ा IPO, जानिए इससे जुड़ी 6 बड़ी बातें

सऊदी की पेट्रोलियम कंपनी ला रही है दुनिया का सबसे बड़ा IPO, जानिए इससे जुड़ी 6 बड़ी बातें

दुनिया की सबसे बड़ी ऑयल कंपनी (सऊदी अरामको) अरामको आईपीओ (इनिशियल पब्लिक ऑफरिंग) लाने वाली है। सऊदी अरब की अरामको इसके लिए पूरी तरह से तैयार है। कंपनी की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि आईपीओ का समय सऊदी सरकार तय करेगी। यह आईपीओ दूसरा पहलू होगा। आपको बता दें कि सऊदी अरब की तेल कंपनी सऊदी अरामको (सऊदी अरामको) दुनिया की सबसे ज्यादा मुनाफे वाली कंपनी है। हाल ही में कंपनी ने पहली बार अपने फाइनेंशियल डेटा का बॉन्ड इन्वेस्टर्स के सामने खुलासा किया है। अरामको का 2018 में प्रॉफिट 111.1 अरब डॉलर रहा, जो इस धरती पर किसी भी तरह के व्यापार से जुड़ा हुआ है, अन्य कंपनी का नहीं है। पहले से

दुनिया भर में अपनी कमाई को लेकर चर्चित इस कंपनी की स्थापना अमरिकी तेल कंपनी ने की थी। अरामको यानी ‘अरबी अमेरकन ऑइल कंपनी’ का सऊदी अरब ने 1970 के दशक में राष्ट्रीयकरण कर दिया था। हालांकि यह कंपनी के मार्गदर्शन को लेकर विवादों में भी है।


CNBC के मुताबिक, इस IPO के तहत कंपनी के शेयर स्थानीय बाजार में लिस्ट होंगे, लेकिन हम विदेशी बाजार में लिस्टिंग के लिए भी तैयार हैं। पिछले एक सप्ताह पहले वाल स्ट्रीट जर्नल में छपी खबर में बताया गया था कि अरमको स्थानीय शेयर बाजार में पहली बार लिस्ट होगा और इसके बाद वह विदेशी बाजार में भी लिस्ट होगा। माना जा रहा है कि जापान में इसकी लिस्टिंग हो सकती है।

अरमको की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि वर्ष 2020 या 2021 में सरकारी कंपनी के 5 प्रतिशत शेयरों की यात्रा होगी। यह दुनिया का सबसे बड़ा शेयर सेल होगा।

आपको बता दें कि यह आईपीओ सऊदी अरब के शासक क्राउन प्रिंस मुहम्मद बिन सलमान के सुधार कार्यक्रम का एक अहम हिस्सा है.

इससे पेट्रोलियम तेल पर सऊदी अर्थव्यवस्था की निर्भरता कम करने की योजना है. कंपनी अपने दो लाख करोड़ डॉलर मूल्य के आधार पर 100 अरब डॉलर तक इस आईपीओ से जुटाना चाहती है. निवेशक हालांकि कंपनी के इस मूल्य पर सवाल उठाते रहे हैं.

क्‍या होता है IPO- आईपीओ का मतलब इनीशियल पब्लिक ऑफर्स होता है. इसके लिए कंपनियां बाकायदा स्टॉक मार्केट में खुद को लिस्ट कराकर अपने स्टॉक्स इन्‍वेस्‍टर्स को बेचने का प्रस्ताव लाती हैं. स्टॉक मार्केट में लिस्टेड होने के लिए कंपनी को अपने बारे में तमाम जानकारियां सार्वजनिक करनी होती हैं. यदि हम इसे आसान शब्‍दों में कहें तो कंपनी आईपीओ के माध्यम से अपने स्टॉक्स जारी करती है. दरअसल आईपीओ के जरिए कंपनियों के प्रमोटर पूंजी जुटाने के लिए अपनी कंपनी की कुछ हिस्‍सेदारी को बेचते हैं.

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Linkedin Join us on Linkedin Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS