रेडमी नोट 9 प्रो समीक्षा: क्या खरीदने लायक है यह फोन या मैक्स के बारे में सोचना चाहिए

रेडमी नोट 9 प्रो समीक्षा: क्या खरीदने लायक है यह फोन या मैक्स के बारे में सोचना चाहिए

शाओमी ने हाल ही में भारत में अपने दो नए स्मार्टफोन रेडमी नोट 9 प्रो और रेडमी नोट 9 प्रो मैक्स को लॉन्च किए हैं। रेडमी नोट 9 सीरीज के दोनों फोन के पावर बटन में स्टोर सेंसर दिया गया है, जिसे साइड माउंटेड स्पोर्ट्स भी कहा जा रहा है। रेडमी नोट 9 प्रो की कीमत 13,999 रुपये हो गई है जो पहले 12,999 रुपये थी। ऐसे में इस फोन का मुकाबला सैमसंग के गैलेक्सी एम 31 और रियलमी के 6 सीरीज के फोन के साथ है। रेडमी नोट 9 प्रो को हमने रिव्यू के लिए कुछ दिनों तक इस्तेमाल किया है। आइए जानते हैं कैसे हैं ये फोन …

रेडमी नोट 9 प्रो समीक्षा: स्पेसिफिकेशन और कीमत


फोन में 6.67 इंच की फुल एचडी प्लस डिस्प्ले है। रेडमी नोट 9 प्रो में चार रियर कैमरे हैं जिनमें एक कैमरा 48 मेगापिक्सल का, दूसरा 8 मेगापिक्सल का अल्ट्रा वाइड पिक्सल, तीसरा 5 मेगापिक्सल का मैक्रो लेंस और चौथा 2 मेगापिक्सल का डेफ्थ सेंसर है। फोन में 16 मेगापिक्सल का एक कैमरा मिलेगा। इस फोन में क्वॉलकॉम का लॉकड्रैगन 720 जी प्रोसेसर मिलेगा। इसके अलावा फोन में गोरिल्ला ग्लास 5 का प्रोटेक्शन भी है। फोन में स्क्रीन मिररिंग (कास्ट), स्क्रीन रिकॉर्डिंग और आभूषण बटन जैसे कई अच्छे फीचर्स हैं। फोन में टाइप-सी चार्जिंग पोर्ट है। इसमें 5020 एमएच की बैटरी दी गई है जिसे चार्ज करने के लिए 18 वॉट का फास्ट चार्जर फोन के साथ बॉक्स में मिलता है।

कनेक्टिविटी के लिए चिप कार्ड स्लॉट है यानी एक बार में आप दो सिम कार्ड के साथ एक मेमोरी कार्ड भी इस्तेमाल कर सकते हैं। फोन में GPS के अलावा भारतीय नेविगेशन सिस्टम Boic का भी सपोर्ट है। फोन के साथ बॉक्स में बैक कवर भी मिलेगा। यह फोन 4 जीबी रैम / 64 जीबी स्टोरेज और 6 जीबी रैम / 128 जीबी स्टोरेज वेरियंट में मिलेगा जिनकी कीमत क्रमशः 12,999 रुपये और 15,999 रुपये है, हालांकि 1 अप्रैल 2020 से जीएसटी की नई कारों पर लागू होने के बाद इस फोन की कीमत क्रमशः 13,999 रुपये है। और 16,999 रुपये हो गए हैं।

रेडमी नोट 9 प्रो समीक्षा: डिज़ाइन और डिस्प्ले

चार्जिंग पोर्ट, स्पीकर ग्रिल और हेडफोन जैक को नीचे की ओर, सिम कार्ड को लेफ्ट में और वॉल्यूम के साथ पावर बटन को रिवर्स में जगह मिली है। पावर पावर बटन में ही दिया गया है जिसका परफॉर्मेंस भी अच्छा है। सैमसंग ने सबसे पहले अपने फोन के पावर बटन में स्मार्टफोन सेंसर दिया था लेकिन उसके मुकाबले रेडमी नोट 9 प्रो का स्टोर काफी तेज है। बैक पैनल पर चार कैमरे हैं जिनके साथ फ्लैश लाइट भी है। रेडमी नोट 9 प्रो की डिजाइन अच्छी और प्रीमियम है, हालांकि फोन की साइज बड़ी है लेकिन हाथ में लेने में परेशानी नहीं होती है।

कुल मिलाकर कहें तो बड़ी डिस्प्ले होने के बावजूद भी फोन की साइज कॉम्पैक्ट है। प्रदर्शन की बात करें तो कलर्स अच्छे हैं। फोटो, वीडियो और गेमिंग के दौरान असली कलर नजर आते हैं लेकिन औटो ब्राइटनेस कमजोर है। कई बार ब्राइटनेस इतना कम हो जाता है तो औटो मोड में होने के बाद ही शब्दकोश तरीके से ब्राइटनेस बढ़ानी पड़ती है। प्रदर्शन का रिफ्रेश रेट 90 हर्ट्ज है लेकिन उपकरण स्विचिंग और हेवी गेमिंग में कोई परेशानी नहीं होती है। लैगिंग की कोई समस्या नहीं है। एमएक्स प्लेयर जैसे कई सपोर्ट फुल स्क्रीन को सपोर्ट नहीं करते हैं। वाटरड्रॉप नॉच परेशान नहीं करता है।

रेडमी नोट 9 प्रो समीक्षा: बैटरी और परफॉर्मेंस

बैटरी की बात करें तो शाओमी ने रेडमी नोट 9 प्रो के साथ 18 वॉट का फास्ट चार्जर दिया है लेकिन बैटरी को फुल चार्ज होने में पूरे दो घंटे का वक्त लगता है। शाओमी के ही एमआई ए 1 से इसकी तुलना करें तो एमआई ए 1 की बैटरी 45 मिनट में फुल चार्ज हो जाती है। फास्ट चार्जिंग के मामले में रेडमी नोट 9 प्रो ने बेकार कर दिया था। जहाँ तक बैटरी बैकअप की बात है तो बैटरी बैकअप शानदार है। गेमिंग खेलने या वीडियो स्ट्रीमिंग में बैटरी ठीक के साथ होती है और तेजी से खत्म नहीं होती है। ठीक-ठाक वीडियो देखने और थोड़ा गेमिंग खेलने पर भी बैटरी दिनभर में 80 प्रति ही खत्म होती है।

कुल मिलाकर कहना तो एक औसत मोबाइल यूजर्स को पूरे दिनभर का बैकअप मिलेगा लेकिन हेवी यूजर को एक बार चार्ज करना पड़ सकता है। फेसिंग और डिजाइन सेंसर फास्ट है। सॉफ्टवेयर की बात करें तो फोन में आपको 10 आधारित एमआईयूआई 11 मिलता है। फोन में कई सारे एप्स प्री-इंस्टॉल्ड मिलते हैं जिन्हें आप हसट भी कर सकते हैं। एक बात हमें पसंद नहीं आई आई और वह यह कि वीडियो रिकॉर्डिंग के बाद प्रीव्यू में जैसे ही वीडियो खत्म होता है कि किसी थर्ड पार्टी के वीडियोज सजेशन में नीचे की ओर आने लगते हैं जो कि बड़ी अजीब बात है। AnTuTu तनाव तनाव के दौरान फोन हल्का गर्म हुआ। हाल ही में आधे घंटे तक चलने वाले खेल पर भी हुआ। फोन का स्पीकर ठीक है।

रेडमी नोट 9 प्रो समीक्षा: कैमरा परफॉर्मेंस

शाओमी ने इसमें चार रियर कैमरे दिए हैं जिनमें एक कैमरा 48 मेगापिक्सल है, हालांकि डिफॉल्ट लेंस 8 मेगापिक्सल का है। 48 मेगापिक्सल वाले लेंस को इस्तेमाल करने के लिए कैमरा एप में आपको अलग से एक बटन मिलता है। 48 मेगापिक्सल लेंस के इस्तेमाल के दौरान आप जूम नहीं कर सकते। यदि आप 48 मेगापिक्सल वाल लेंस से फोटो क्लिक करते हैं तो आपको एचडी प्रीव्यू मिलेगा जिसे आप फोटो पर डबल टैप करके देख सकते हैं।

कैमरे के साथ प्रो कलर नाम से एक फीचर मिलता है जिसे चालू करने के बाद फोटो में बाइटनेस और कॉन्ट्रास्ट थोड़ी बढ़ जाती है, हालांकि अगर आप वास्तिवक कलर के शौकीन हैं तो हम आपको प्रो कलर फीचर इस्तेमाल ना करने की सलाह देते हैं। 48 मेगापिक्सल वाले लेंस का पर प्रदर्शनेंस शानदार है। फोटो बेहतरीन आता है जो कि जूम करने के बाद भी खराब नहीं होता है।

पर्याप्त रौनी में रेडमी नोट 9 प्रो का कैमरा ठीक काम करता है लेकिन कम रौनी में संघर्ष करता नजर आता है। कैमरों के साथ नाइट मोड भी है लेकिन उसका परफॉर्मेंस औसत है। फोटो रौशनी के साथ क्लिक होता है लेकिन धूंधली रहती है। एक मोड से दूसरे मोड में स्विच करने पर कैमरा लैग करता है।

रिव्यू के दौरान हमने डिफलेट मोड से जूम और 48 मेगापिक्सल मोड में स्विच करना चाहा तो कैमरा हैंग हो गए। इसके अलावा 48 मेगापिक्सल वाले मोड में फोटो क्लिक करने पर कैमरा कभी-कभी अटकता है। 5 मेगापिक्सल का मैक्रो लेंस ठीक है लेकिन फोटो में वास्तविक कलर की कमी रहती है।

नाइट मोड की बात करें तो रेडमी नोट 9 प्रो का नाइट मोड कुछ खास नहीं है। नॉर्मल और नाइट मोड में कुछ खास अंतर नहीं दिखता है। रेडमी नोट 9 प्रो के मुकाबले रियलमी 6 का नाइट मोड बेहतर है। उदाहरण के तौर पर आप नीचे की तस्वीरों को देख सकते हैं।

भुगतान की बात करें तो रेडमी नोट 9 प्रो से आप 30 फ्रेम की ओरेंड की दर से 4 के आकार कर सकते हैं। में भी आपको मैक्रो लेंस का सपोर्ट मिलता है। कैमरों के साथ आपको शॉर्ट वीडियो का भी फीचर मिलता है जिसके साथ कई तरह के इफेक्ट्स भी मिलते हैं। प्रोसेसर में 16 मेगापिक्सल का कैमरा मिलता है जो कि ठीक-ठाक है। कुल मिलाकर कहें तो रेडमी नोट 9 प्रो का कैमरा खासकर उनलोगों के लिए है जो टिकटॉक जैस एप्स पर वीडियो बनाते हैं, क्योंकि इसमें 15 सेकेंड के शॉर्ट वीडियो जैसे कई इफेक्ट्स मिलते हैं, हालांकि इसका मतलब यह नहीं है कि अन्य लोगों के लिए यह फोन है। खराब है।

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Linkedin Join us on Linkedin Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS