राजद में बगावत शुरू, नीतीश के साथ जाएंगे लालू के समधी

बिहार की राजनीति में बड़ा राजनीतिक उलटफेर होने वाला है। राजद के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के समधी चंद्रिका राय का आखिरकार राजद से मोहभंग हो ही गया। अब वो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू में शामिल होने जा रहे हैं। राजद विधायक चंद्रिका राय ने बगावत का झंडा बुलंद करते हुए क्लीयर कर दिया कि आगामी चुनाव में लालू परिवार की सारी हेकड़ी को जनता निकाल देगी और राजद कहीं की नहीं रहेगी। साथ ही ये भविष्यवाणी भी कर दी है कि वर्ष 2020 में बिहार में एनडीए गठबंधन की सरकार बनेगी। हालांकि उन्होंने अपनी बेटी और लालू परिवार की बहू ऐश्वर्या राय के चुनाव लड़ने के सवाल पर फिलहाल चुप्पी साध ली। उन्होंने दावा किया की आरजेडी में कई और नेता भी नाराज हैं जो भविष्य में पार्टी छोड़ सकते हैं।

चंद्रिका राय ने आरजेडी पर कई गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि पार्टी में मुझे कई पीड़ा मिली जिसे मैं भूल नहीं सकता हूं। नीतीश कुमार बिहार का सही तरीके से विकास कर रहे हैं और मुझे जेडीयू से कोई एतराज नहीं है। मैं जेडीयू में बहुत जल्द शामिल हो सकता हूं। नीतीश कुमार और एनडीए का बिहार में कोई विकल्प नहीं है। उन्होंने कहा कि एनडीए को बिहार में शानदार सफलता मिलेगी और नीतीश कुमार फिर से मुख्यमंत्री बनेंगे।


चुनाव प्रचार में अपने रिश्तेदार रह चुके लालू यादव पर हमला कैसे बोलेंगे, इस सवाल पर चंद्रिका राय ने कहा कि राजनीति में सब कुछ जायज है। जब उन लोगों ने मेरे बारे में नहीं सोचा तो मैं क्यों सोचूं? हालांकि उन्होंने अपनी बेटी और लालू यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव की पत्नी एश्वर्या राय के चुनाव लड़ने पर चुप्पी साध ली।

उन्होंने कहा कि 26 फरवरी से शुरू हो रहे बिहार विधानसभा के बजट सत्र के दौरान वो अपने समर्थकों के साथ जेडीयू में शमिल हो सकते हैं। साथ ही ये भी दावा किया कि उनके संपर्क मे कई और लोग हैं। बता दें कि तेज प्रताप और एश्वर्या राय के बीच विवाद चल रहा है और मामला फैमिली कोर्ट में है। इसी वजह से दोनों परिवारों के बीच तनाव है। चंद्रिका राय यदि नीतीश के पाले में जाते हैं तो आगामी विधानसभा चुनाव से पहले आरजेडी को जोरदार झटका लग सकता है।

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Linkedin Join us on Linkedin Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS