रत्नज्योतिष: सफलता के लिए किसे पहनना चाहिए ये रत्न, जानिए

रत्नज्योतिष: सफलता के लिए किसे पहनना चाहिए ये रत्न, जानिए

आपको बता दें कि हर व्यक्ति के जीवन में ज्योतिषशास्त्र और रत्नशास्त्र का विशेष महत्व होता हैं वही रत्न मनुष्य के जीवन पर बहुत गहरा प्रभाव छोड़ता हैं हालांकि कौन सा रत्न धारण करना चाहिए और कौन सा नहीं, इसके लिए पहे ज्योतिष से सलाह अवश्य ही लेनी चाहिए।

ग्रहों के अनुकूल या प्रतिकूलता के मुताबिक ही रत्न धारण किया जाए तो बेहतर परिणाम देते हैं। इसी में से एक रत्न होता हैं गोमेद रत्न, तो आज हम आपको इस रत्न से जुड़ी कुछ खास और महत्वपूर्ण बातों के बारे में बताने जा रहे हैं तो आइए जानते हैं।


वकालत, न्या और राज काज से संबंधित कार्यों में बेहतर करने के लिए भी गोमेद रत्न धारण करना चाहिए। वही किसी भी मनुष्य की राशि या लग्न मिथुन, तुला, कुंभ या वृषभ हो तो ऐसे लोगो को गोमेद अवश्य ही पहनना चाहिए। वही अगर राहु कुंडली में केंद्र में विराजमान हो अर्थात 1,4,7,10वें भाव में हो तो गोमेद अवश्य ही धारण करना चाहिए।

वही अगर दूसरे, तीसरे, नौवे या ग्यारवें भाव में राहू हो तो भी गोमेद धारण करना बहुत ही लाभकारी माना जाता हैं। वही राहू अगर अपनी राशि से छठे या आठवें भाव में स्थित हो तो गोमेद पहनना हितकर होता हैं अगर राहू शुभ भावों का स्वामी हो और स्वयं छठें या आठवें भाव में स्थित हो तो गोमेद धारण करना लाभदायक साबित होता हैं राहू अगर अपनी नीच राशि यानी की धनु में हो तो गोमेद पहनना चाहिए।

वही राहू मकर राशि का स्वामी हैं अत: मकर राशि वाले लोगो के लिए भी गोमेद धारण करना लाभ फलों को बढ़ाता हैं। वही राहू अगर शुभ भाव का स्वामी हैं और सूर्य के साथ युति बनाए या दुष्ट हो अथवा सिंह राशि में स्थित हो तो गोमेद धारण करना शुभ माना जाता हैं।

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Linkedin Join us on Linkedin Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS