नवरात्रि का होता है बहुत अधिक महत्व, जानिए कुछ खास बातें जिन्हें आपके लिए जानना है जरूरी

22 मार्च, बुधवार से चैत्र नवरात्रि आरंभ हो रही हैं। नवरात्रि में मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा करने के विधान है और साथ ही इन नौ दिन में उपवास भी रखा जाता है। नवरात्रि व्रत का बहुत अधिक महत्व होता है। इन दिनों व्रत करने से सभी मनोकामनाएं पूरी हो जााती हैं। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार नवरात्रि पर पूजा- अर्चना करने से बहुत अधिक लाभ होता है। आइए, आज जानते हैं नवरात्रि की 9 खास बातें…

साल में कुल मिलाकर 4 बार नवरात्रि


  • पूरे साल में कुल मिलाकर 4 बार नवरात्रि का पर्व आता है। चैत्र नवरात्रि, शारदीय नवरात्रि और दो गुप्त नवरात्रि। व्रत रखने का अधिक महत्व चैत्र और शारदीय नवरात्रि का होता है। चैत्र और शारदीय नवरात्रि में व्रत करने मां का आशिर्वाद मिलता है और सभी मनोकामनाएं पूरी हो जाती हैं।

हिन्दू पंचांग के नए वर्ष का आरंभ

  • चैत्र नवरात्रि से हिन्दू पंचांग का नया वर्ष का आरंभ हो जाता है। इस बार 25 मार्च, बुधवार से नए हिंदू नववर्ष की शुरुआत हो जाएगी।

सभी मनोकामनाए पूरी हो जाती हैं

  • धार्मिक मान्यताओं के अनुसार चैत्र नवरात्रि के दिनों में व्रत करने से सभी मनोकामनाएं पूरी हो जाती हैं। इन 9 दिनों में व्रत का विशेष फल मिलता है।

गुप्त नवरात्रि

  • गुप्त नवरात्रि तंत्र साधना करने वालों के लिए बहुत ज्यादा मायने रखता है। गुफ्त नवरात्रि में तांत्रिकों द्वारा काली मां की साधना की जाती है। साल में 2 बार गुप्त नवरात्रि पड़ती हैं।

मां के नौ अलग-अलग स्वरूपों की आराधना

  • नवरात्रि के नौ दिनों में मां के नौ अलग-अलग स्वरूपों की आराधना की जाती है। ये नौ स्वरूप इस प्रकार है…
  • मां शैलपुत्री
  • ब्रह्मचारिणी
  • चंद्रघंटा
  • कुष्मांडा
  • स्कंदमाता
  • कात्यायनी
  • कालरात्रि
  • महागौरी
  • सिद्धिदात्रि मां।

मां दुर्गा का वाहन

  • इस चैत्र नवरात्रि पर मां दुर्गा नौका पर सवार होकर आएंगी और हाथी पर सवार होकर विदाई लेंगी। मां के नौका पर आने से इस वर्ष भारी मात्रा में बारिश होगी।

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Linkedin Join us on Linkedin Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS