जानिए क्यों मनाई जाती हैं मकर संक्रांति और क्या है इसका महत्व

जानिए क्यों मनाई जाती हैं मकर संक्रांति और क्या है इसका महत्व

मकर संक्रांति का उत्सव हिंदू धर्म में खास महत्व रखता हैं, इस तिथि को बहुत ही पवित्र माना जाता हैं। इस बार मकर संक्रांति 15 जनवरी को मनाई जाएगी। धर्म, ज्योतिष और वैज्ञानिक रूप से यह पव्र बहुत ही खास हैं। मकर संक्रांति के दिन पवित्र नदी में स्नान ध्यान और जप किया जाता हैं इस दिन दान पुण्य का विशेष महत्व होता हैं। वही आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि मकर संक्रांति का पर्व क्यों मनाया जाता हैं, तो आइए जानते हैं।

मकर संक्रांति पर्व को मनाने का ज्योतिषीय और धार्मिक कारण जुड़ा हुआ हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार जब सूर्य धनु राशि को छोड़कर अपने शत्रु ग्रह शनि की राशि मकर में प्रवेश करता हैं, ज्योतिष की इस घटना को मकर संक्रांति कहते हैं इसके साथ ही सूर्य ग्रह दक्षिणायन से उत्तरायण की ओर आता हैं सूर्य की ये स्थिति बहुत ही शुभ मानी जाती हैं।


धार्मिक नजरिए से देखा जाए तो इस दिन सूर्य अपने पुत्र शनिदेव से नाराजगी छोड़कर उनके घर मिलने आते हैं यही वजह हैं कि मकर संक्रांति के दिन को सुख और समृद्धि से भी जोड़ा जाता हैं। मकर संक्रांति से ही ऋतु में परिवर्तन होने लगता हैं शरद ऋतु क्षीण होने लगती हैं और बंसत का आगमन शुरू हो जाता हैं।

इसके फलस्वरूप दिन लंबे होने लगते हैं और रातें छोटी हो जाती हैं मकर संक्रांति से ही ऋतु में परिवर्तन होने लगता हैं शरद ऋतु क्षीण होने लगती हैं और बंसत की शुरुवात हो जाती हैं इसके फलस्वरूप दिन लंबे होने लगते हैं और रातें छोटी हो जाती हैं।

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Linkedin Join us on Linkedin Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS