हल्द्वानी में बुजुर्गों को पीठ पर लादकर पार कराई जा रही नदी, जान पर खेलकर स्कूल जा रहे बच्चे

हल्द्वानी में बुजुर्गों को पीठ पर लादकर पार कराई जा रही नदी, जान पर खेलकर स्कूल जा रहे बच्चे

नैनीताल के पहाड़ी इलाक़ों में हो रही बारिश से हल्द्वानी में गौला और सूखी नदी का जलस्तर बढ़ गया है.

दूर से ख़ूबसूरत दिखने वाले पहाड़ों में जिंदगी का संघर्ष  भी पहाड़ जैसा ही होता है. हल्द्वानी से हम जो तस्वीरें आपको दिखा रहे हैं वह बता रही हैं कि यहां ज़रा सी भी चूक जानलेवा  हो सकती है. दरअसल नैनीताल के पहाड़ी इलाक़ों  में हो रही बारिश से हल्द्वानी में गौला और सूखी नदी  का जलस्तर बढ़ गया है. ऐसा पहली बार नहीं हुआ है, बरसात में अक्सर ही ऐसा होता है. ग्रामीण  बरसों से सरकार से इन नदियों  पर पुल  बनाने की मांग कर रहे हैं लेकिन नहीं बने हैं. इसकी वजह से लोगों को जान पर खेलकर नदी पार करनी पड़ रही है. स्कूली बच्चे  भी अपने बस्तों को भीगने से बचाने की कोशिश में खुद बह जाने की आशंका के बावजूद नदी पार कर रहे हैं.


यहां बढ़ीं लोगों की मुश्किलें 

नैनीताल के पहाड़ी इलाक़ों में बारिश के बाद हल्द्वानी के उन ग्रामीण इलाक़ों में लोगों की मुश्किलें बढ़ गई हैं जहां नदी पार करने के लिए पुल नहीं है. नैनीताल ज़िले में हल्द्वानी तहसील के विजयपुर और नैनीताल तहसील के हैड़ाखान के करीब के गावों में रहने वाले ग्रामीण सबसे ज्यादा परेशान हैं.

विजयपुरा गांव के लोग अचानक सूखी नदी का जलस्तर बढ़ने के बाद लाचार से हो गए. अचानक नदी का पानी बढ़ने की वजह से आना-जाना मुश्किल हो गया तो नदी पार करने के लिए लोगों को एक-दूसरे का हाथ थामना पड़ा. किसी को रस्सी के सहारे पार करवाया गया तो किसी को पीठ पर बैठाकर नदी के पार ले जाना पड़ा.

स्कूली बच्चों को स्कूल जाने के लिए गौला नदी को तैरकर पार करना पड़ा. यहां हालत यह है कि स्कूली बच्चे रोज़ बैग को पॉलीथिन के बड़े बैग में भरते हैं और उसके बाद कपड़े बदलकर नदी पार करते हैं. तस्वीरों में साफ दिख रहा है. स्कूली बच्चियों को साथी लड़के किस तरह से इस उफनती नदी को पार करा रहे हैं.

गौला नदी में पानी का बहाव इतना तेज़ है कि इन स्कूली छात्र-छात्राओं के बह जाने की आशंका हर पल बनी रहती है लेकिन यह इन इलाक़ो में रोज़मर्रा की ज़िंदगी का हिस्सा बन गया है. प्रशासन इस समस्या से वाकिफ़ होने और जल्द ही पुल बनाने के लिए काम करने की बात कर रहा है.

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Linkedin Join us on Linkedin Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS