एड़ी की मोच और नसों के खिंचाव में दर्द और सूजन को तुरंत दूर करें

एड़ी की मोच और नसों के खिंचाव में दर्द और सूजन को तुरंत दूर करें

कई बार तेज चलने, दौड़ने या उंचाई से गिरने-कूदने में एड़ियों में मोच और नसों में खिंचाव जैसी समस्या हो जाती है। मोच होने पर असहनीय दर्द के कारण चलना-फिरना मुश्किल हो जाता है। कई बार एड़ी या पैर में सूजन की समस्या भी हो सकती है। इस तरह की मोच या खिंचाव की स्थिति में दर्द निवारक दवाओं का भी असर नहीं होता है। चलने में समस्या होने के कारण आपके रोजमर्रा के काम प्रभावित होते हैं। मगर इस मोच और नसों के खिंचाव की समस्या को आप घर पर ही कुछ आसान उपायों से आसानी से ठीक कर सकते हैं। आइए आपको बताते हैं क्या हैं वो उपाय।


गर्म पानी और नमक की सिंकाई

मोच और नसों में खिंचाव के कारण अगर आपको असहनीय दर्द हो रहा है और आप बिल्कुल चल नहीं पा रहे हैं, तो इस उपाय से आपको बहुत जल्दी आराम मिलेगा। इसके लिए एक बाल्टी में 3 लीटर गर्म पानी (सहने योग्य गर्म) लें। इसमें 5 बड़े चम्मच नमक और 2 चम्मच सरसों का तेल मिलाएं। इस पानी में पैर को डुबाकर 15-20 मिनट तक बैठे रहें। अगर पानी ठंडा हो जाए, तो थोड़ा गर्म पानी और मिला लें, ताकि सिंकाई अच्छी तरह हो सके।

सरसों के तेल का मसाज

नसों में खिंचाव के कारण या मोच में होने वाले दर्द को कम करने के लिए गर्म तेल से मसाज भी कर सकते हैं। इसके लिए सरसों का तेल बहुत फायदेमंद होता है। 2-3 लहसुन की कलियों को छीलकर थोड़े से सरसों के गर्म तेल में डालें और भून लें। इसके साथ ही इसमें 3-4 पत्तियां पुदीने की डाल दें। इस तेल को हल्का गुनगुना हो जाने पर दर्द वाली जगह पर मसाज करें। इससे आपको दर्द से तत्काल राहत मिलेगी और सूजन भी दूर हो जाएगी।

हल्दी-दूध का सेवन

नसों में खिंचाव या मोच की समस्या में असहनीय दर्द होता है। दर्द से राहत पाने के लिए आप हल्दी-दूध का भी सेवन कर सकते हैं। हल्दी में दर्द निवारक गुण होते हैं। इसके लिए रात को सोने से पहले एक ग्लास गुनगुने दूध में आधा चम्मच हल्दी मिलाकर पिएं। इससे आपका पेट भी अच्छी तरह साफ होता है और दर्द से भी राहत मिलती है।

मोच होने पर रखें ध्यान

पैरों में मोच होने पर कुछ लोग चलना बिल्कुल बंद कर देते हैं और हर समय बिस्तर पर आराम करने लगते हैं। मगर आपको बता दें कि थोड़ा-बहुत चलने का प्रयास करने से आप मोच की समस्या से जल्दी राहत पा सकते हैं। हालांकि चलने में सावधानी बरतनी जरूरी है। इस दौरान आपको बहुत धीरे-धीरे और सधे हुए कदमों से चलना चाहिए, ताकि नसों में खिंचाव की स्थिति न उत्पन्न हो। आप चाहें, तो अपने घर में ही कुर्सी की सहायता से थोड़ी देर चलें। यह ध्यान दें कि साधारण मोच के बजाय अगर आपके मांसपेशियां में खिंचाव की वजह से मांसपेशियां फट गई हैं, तो आपको बिल्कुल चलना नहीं चाहिए, क्योंकि इससे परेशानी बढ़ सकती है।

Read More Articles On https://indiaabhiabhi.com/home-remedies/

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Linkedin Join us on Linkedin Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS