ऑस्ट्रेलिया में आग से 480,000,000 पशु-पक्षी जलकर मरे

ऑस्ट्रेलिया में आग से 480,000,000 पशु-पक्षी जलकर मरे

ऑस्ट्रेलिया के न्यू साउथ वेल्स राज्य के जंगलों में भयानक आग लगी है. इस आग में करीब 50 करोड़ जानवर जलकर मर गए हैं. इसमें हजारों कोआला जानवरों की भी मौत हुई है. हफिंगटन पोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक, यूनिवर्सिटी ऑफ सिडनी के ईकोलॉजिस्ट का अनुमान है कि 480 मिलियन (करीब 48 करोड़) स्तनधारी पशुओं, पक्षियों, सरीसृप (रेंगने वाले जीव) की मौत हुई है.

सूर्य के दक्षिणी गोलार्ध में जाने की वजह से ऑस्ट्रेलिया के जंगलों में आग का मौसम होता है. गर्मियों के मौसम असामान्य रूप से गर्म और शुष्क सर्दियों के बाद शुरू हुआ. सितंबर में न्यू साउथ वेल्स और क्वींसलैंड राज्यों में रिकॉर्ड तोड़ गर्मी और हवा के हालातों ने जंगल की भयानक आग को जन्म दिया.


कोआला जानवरों की तादाद में बेतहाशा गिरावट

एसोसिएटेड प्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, सिर्फ उत्तरी सिडनी के जंगलों में लगी आग की वजह से हजारों हजार कोआला जानवर आग में जलकर खाख हो गए.

न्यू साउथ वेल्स का मध्य-उत्तरी इलाका 28,000 कोआलों के रहने का स्थान था, लेकिन हाल के महीनों में लगी आग ने उनकी आबादी को काफी कम कर दिया है. कोआला ऑस्ट्रेलिया के मूल निवासी हैं और देश के सबसे प्यारे जानवरों में से एक हैं, लेकिन निवास स्थान के नुकसान के कारण खतरे में हैं.

फिर से तापमान बढ़ने का अनुमान

आग लगने के चलते कम से कम 20 लोगों की मौत हुई है. दर्जनों लोग लापता हैं. कम से कम 500 घर तबाह हो गए हैं. लेकिन बीते शनिवार को तापमान 40 डिग्री सेल्सियस के पार चला गया.

ऑस्ट्रेलिया सरकार ने 2 जनवरी को आपात स्थिति की घोषणा करते हुए सड़कों को बंद कर दिया है और निवासियों, पर्यटकों को वहां से निकाला जा रहा है.

न्यू साउथ वेल्स और विक्टोरिया राज्य के जंगलों में लगी आग ने घरों को तबाह कर दिया और इसके कारण हजारों लोग तथा पर्यटक तटीय क्षेत्र की ओर जाने पर मजबूर हो गए. पर्यटकों से कहा गया है कि वो शनिवार, 4 जनवरी से पहले वहां से निकल जाएं क्योंकि तापमान 40 डिग्री सेल्सियस के पार जा सकता है और तेज हवाएं चल सकती हैं.

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Linkedin Join us on Linkedin Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS