फेंगशुई टिप्स: मुख्य द्वार पर 32 इंच से कम हो लॉफिंग बुद्धा की मूर्ति, घर में होगी बरकत

वास्तुशास्त्र की तरह ही फेंगशुई शास्त्र को भी महत्व दिया गया हैं। फेंगशुई में लाफिंग बुद्धा को विशेष माना जाता हैं अधिकतर लोग लॉफिंग बुद्धा का इस्तेमाल घर को सजाने के लिए करते हैं मगर घर को अलग लुक देने के साथ साथ लॉफिंग बुद्धा आपके जीवन में खुशियां लाने का भी काम करता हैं।

फेंगशुई और वास्तु के मुताबिक अगर आप लॉफिंग बुद्धा को घर में मुख्य द्वार पर लगाते हैं तो आपको अपने जीवन में खुशियों की प्राप्ति हो सकती हैं। तो आज हम आपको बताने जा रहे हैं घर के मुख्य द्वार पर किस तरह की लॉफिंग बुद्धा की मूर्ति रखनी चाहिए। तो आइए जानते हैं।


मेन गेट पर लॉफिंग बुद्धा लगाते वक्त ध्यान रखें कि मूर्ति की ऊंचाई मुख्य द्वार से करीब 30 इंच ऊपर होनी चाहिए। ऊंचाई हमेशा ही 30 इंच से अधिक और साढ़े 32 इंच से कम होनी चाहिए। वही लॉफिंग बुद्धा का नाम घर के मालिक की उंगलियों के बराबर, यानी की कम से कम आठ उंगलियों के बराबर होना चाहिए।

मूर्ति की ऊंचाई मालकिन के हाथ की नाप से सवा हाथ के बराबर होनी चाहिए। मुख्य द्वार पर रखी इस मूर्ति का चेरा द्वार के उल्ट नहीं बल्कि सामने होना चाहिए। द्वार खुलने पर सबसे पहले बुद्ध की मूर्ति ही दिखनी चाहिए। वही आपको बता दें कि लाफिंग बुद्धा की मूर्ति कभी भी रसोई घर में या फिर डायनिंग रूम या बेडरूम में नहीं रखनी चाहिए और न ही इनकी कभी पूजा करें। ऐसा करने से आपको बुरे परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं।

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Linkedin Join us on Linkedin Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS