सीबीएसई बोर्ड ने एग्जाम फीस के साथ-साथ स्थानांतरण शुल्क में भी किया इजाफा

सीबीएसई बोर्ड ने एग्जाम फीस के साथ-साथ स्थानांतरण शुल्क में भी किया इजाफा

केंद्रीय बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन (केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड) ने 10 वीं और 12 वीं बोर्ड की फीस को बढ़ा दिया है। अनुसूचित जनजाति और अनुसूचित जनजाति के छात्र-छात्राओं की फीस में 24 गुना से बहुत अधिक वृद्धि (परीक्षा शुल्क में वृद्धि) की गई है। वहीं समान्य कैटिगरी के छात्रों के लिए यह फीस को दोगुनी कर दिया गया है।

बता दें कि अनुसूचित जनजाति और अनुसूचित जनजाति (SC/ST)के छात्र-छात्राओं को पहलेएग्जाम के लिए 50 रुपये देने पड़ते थे, लेकिन अब उनकी यह फीस बढ़ाकर 1200 रुपये हो गई है। वहीं समान्य वर्ग (general category) के छात्रों को पहले 750 रूपये देने पड़ते थे लेकिन अब यह फीस बढ़ाकर 1500 रूपये कर दी गई है।


बोर्ड परीक्षा में अतिरिक्त विषय के लिए देने होंगे300 रुपए शुल्क

अधिकारी ने बताया कि, 12वीं की बोर्ड परीक्षा में अतिरिक्त विषय के लिए एससी/एसटी छात्रों को 300 रुपए अतिरिक्त देने होंगे। पहले अतिरिक्त विषय के लिए इन वर्गों के छात्रों से कोई शुल्क नहीं लिया जाता था। सामान्य वर्ग के छात्रों को भी अतिरिक्त विषय के लिए 150 रुपए के बजाय अब 300 रुपए का शुल्क देना होगा।

स्थानांतरण शुल्क में भी हुई है बढ़ोतरी

अधिकारी (Officer) ने कहा, शत प्रतिशत दृष्टि बाधित छात्रों को सीबीएसई परीक्षा (CBSE Exam) शुल्क से छूट दी गई है। हालांकि, जो छात्र अंतिम तारीख से पहले नई दर के अनुसार शुल्क जमा नहीं करेंगे उनका पंजीकरण नहीं होगा और उन्हें 2019-20 की परीक्षा में बैठने की इजाजत नहीं होगी। स्थानांतरण शुल्क (माइग्रेशन फीस) (Migration Fees) भी 150 रुपए से बढ़ाकर 350 रुपए कर दिया गया है।

विदेश स्थित सीबीएसई के स्कूलों में पढ़ रहे छात्रों को देने होंगे 10 हजाररुपये

विदेश स्थित सीबीएसई के स्कूलों में पढ़ रहे छात्रों को अब पांच विषयों के बोर्ड परीक्षा शुल्क के रूप में 10 हजार रुपयेदेने होंगे। पहले यह राशि पांच हजार रुपए थी। 12वीं की बोर्ड परीक्षा में अतिरिक्त विषय के लिए इस श्रेणी के छात्रों को अब 1000 रुपए के बजाय 2000 रुपए का शुल्क देना होगा।

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Linkedin Join us on Linkedin Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS