आर्थिक मोर्चे पर सरकार को बड़ा झटका, खुदरा महंगाई दर बढकर 5.54 पर्सेंट पर पहुंची

आर्थिक मोर्चे पर सरकार को बड़ा झटका, खुदरा महंगाई दर बढकर 5.54 पर्सेंट पर पहुंची

खाद्य पदार्थों की कीमतों में उछाल की वजह से खुदरा मुद्रास्फीति नवंबर महीने में बढ़कर 5.54 प्रतिशत पर पहुंच गई है, जो तीन साल का सबसे ऊंचा स्तर है। पिछले महीने अक्टूबर में यह 4.62 प्रतिशत पर थी। वहीं, नवंबर 2018 में खुदरा महंगाई दर महज 2.33 पर्सेंट थी।

केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालाय की ओर से गुरुवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक,खाद्य पदार्थों की महंगाई दर 10.1 पर्सेंट रही, जो अक्टूबर में 7.89 पर्सेंट थी और सालभर पहले -2.61 पर्सेंट थी।


इससे अधिक खुदरा महंगाई दर जुलाई 2016 में 6.07 पर्सेंट दर्ज की गई थी। सरकार ने रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया को महंगाई दर 4 पर्सेंट के दायरे में रखने को कहा है, जिसमें 2 पर्सेंट का मार्जिन भी है।

देश के औद्योगिक उत्पादन में गिरावट की स्थिति लगातार बनी हुई है। अक्टूबर महीने में औद्योगिक उत्पादन में 3.8 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई।

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Linkedin Join us on Linkedin Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS