अयोध्या दीपोत्सव: 06 लाख 11 हजार दीया जलाने का बना विश्व रिकार्ड

अयोध्या दीपोत्सव: 06 लाख 11 हजार दीया जलाने का बना विश्व रिकार्ड

राम नगरी अयोध्या में दीपोत्सव पर 06 लाख 11 हजार दीपों को प्रज्ज्वलित कर शनिवार को नया विश्व कीर्तिमान स्थापित किया गया। इस कीर्तिमान के बाद इसका गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड में नाम दर्ज हो गया।
यह रिकॉर्ड राम की पैड़ी सहित अयोध्या में विभिन्न स्थानों पर एक साथ दीप जलाकर रचा गया। राम की पैड़ी पर 04 लाख 10 हजार दीपक, जबकि अयोध्या के विभिन्न मंदिरों व अन्य स्थानों में 02 लाख 01 हजार दीपक प्रज्ज्वलित किए गए। इतनी संख्या में अयोध्या ने दीपों को जलाकर विश्व रिकॉर्ड स्थापित किया। योजना साढ़े तीन लाख से ज्यादा दीप जलाकर विश्व रिकॉर्ड बनाने की थी लेकिन मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम की कृपा से लक्ष्य से ज्यादा 4 लाख 10 हजार दीया जलाने का विश्व रिकॉर्ड बना। राम की पैड़ी एक बार फिर नए विश्व रिकार्ड का गवाह बनी। गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड की टीम ने इस आशय की घोषणा की और मौके पर ही प्रमाण पत्र भी जारी कर दिया।
इस मौके पर प्रदेश की राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, फिजी गणराज्य की संसद की उप-सभापति व मंत्री श्रीमती वीना भटनागर, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, केन्द्रीय पर्यटन मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल, यूपी के पर्यटन, संस्कृति व धर्मार्थ मंत्री डा. नीलकंठ तिवारी एवं उ0प्र0 मंत्रिमण्डल के कई मंत्रिगण इस विश्व रिकॉर्ड रचे जाने के गवाह बने। इस अवसर पर मुख्यमंत्री जी को गिनीज बुक आॅफ वल्र्ड रिकाॅर्ड का प्रमाण-पत्र प्रदान किया गया।
प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ‘दीपोत्सव-2019’ के अवसर पर राम की पैड़ी पर आयोजित दीपोत्सव कार्यक्रम में भारी संख्या में आए सभी आगंतुकों एवं साधु-संतों को अयोध्या का वातावरण राममय बनाए जाने के लिए बधाई के साथ दीपावली की शुभकामनाएं दीं।
उन्होंने अपने उद्बोधन में कहा कि दीप से दीप जलें और ये दीप अन्याय, अंधकार व अत्याचार के खिलाफ, लड़ी जा रही लड़ाई में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के संकल्प को पूरा करने में एक साथ सभी को जुड़ने के लिए प्रेरित करें।
उल्लेखनीय है कि इस बार होने वाले दीपोत्सव को भव्यता प्रदान करने के लिए राम की पैड़ी के घाटों को वृहद रूप दिया गया। दीपोत्सव में दीपों के प्रकाश एवं रंगीन बिजली की रोशनी से संपूर्ण राम की पैड़ी जगमगा उठी।
दीप प्रज्ज्वलन के उपरान्त, दीपक की रोशनी के बीच प्रोजेक्शन मैपिंग शो के माध्यम से राम कथा का प्रदर्शन किया गया। अद्भुत, अलौकिक एवं अनुपम छटा के बीच अयोध्या में भव्य एवं दिव्य ‘दीपोत्सव-2019’ का आयोजन सम्पन्न हुआ। सरयू के 12 घाटों पर विभिन्न महाविद्यालयों व विद्यालयों के छात्र-छात्राओं व वाॅलन्टियर्स ने दीपोत्सव कार्यक्रम में दीप जलाकर अपना योगदान दिया।
इस अवसर पर राज्यपाल जी, मुख्यमंत्री जी व मुख्य अतिथि फिजी गणराज्य की संसद की उप-सभापति व मंत्री ने भी दीप प्रज्ज्वलित किया।
गौरतलब है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के ड्रीम प्रोजेक्ट में शामिल राम नगरी अयोध्या के दूसरे दीपोत्सव में वर्ष 2018 में प्रदेश सरकार और डॉ राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित कार्यक्रम में एक ही स्थान पर एक साथ तीन लाख एक हजार 152 दीप जलाकर विश्व रिकॉर्ड कायम किया गया था। इस बार प्रदेश सरकार की ओर से अपने दी पुराने विश्व रिकॉर्ड को तोड़ने और नया विश्व रिकॉर्ड बनाने की योजना सफल रही।
पूर्व में, दीपोत्सव-2019 के पुनीत आयोजन के अवसर पर भक्तिपूर्ण वातावरण व मंत्रोच्चार के साथ सरयू के नया घाट पर सरयू जी की भव्य व दिव्य आरती की गयी। आरती में फिजी गणराज्य की उप-सभापति श्रीमती वीना भटनागर ने मुख्य अतिथि के रूप में तथा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, राज्यपाल श्रीमती आनन्दी बेन पटेल, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य समेत अन्य सन्त-महात्माओं आदि ने भाग लिया।
आरती व दीप प्रज्ज्वलन के अलौकिक दृश्य से लोग अभिभूत नजर आए। ऐसा महसूस हुआ कि दीपों के माध्यम से सकारात्मक ऊर्जा निकलकर कण-कण को राममय बना रही है। दीपोत्सव एक लोकोत्सव के रूप में नजर आया। इसके उपरान्त, सरयू पुल पर आतिशबाजी का भव्य एवं शानदार प्रदर्शन किया गया।


Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Linkedin Join us on Linkedin Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS