आखिर क्यों हमेशा खौलता रहता है इस रहस्यमय नदी का पानी, गिर गए तो मिनटों में जल जाएगा शरीर

आखिर क्यों हमेशा खौलता रहता है इस रहस्यमय नदी का पानी, गिर गए तो मिनटों में जल जाएगा शरीर

नदी किनारे बैठना बहुत ही अच्छा लगता है लेकिन क्या आपने कभी ऐसी कोई नदी देखी है जिसका पानी हमेशा खौलता रहे। गलती से भी अगर इस नदी में कोई गिर जाए तो मिनटों में उसका शरीर भून जाएगा।

दक्षिण अमेरिका के पेरू के जंगलों में एक ऐसी नदी है, जिसके पानी का तापमान 50 से 90 डिग्री सेल्सियस रहता है। कई बार तो तापमान 100 डिग्री से ऊपर पहुंच जाता है। अगर आप सोच रहे हैं कि ज्वालामुखी के कारण इस नदी का पानी इतना खौलता है तो बता दें कि ऐसा नहीं है क्योकिं निकटतम सक्रिय ज्वालामुखी क्षेत्र वास्तव में 430 मील (700 किमी) से अधिक दूर है।


PM मोदी से लेकर ट्रंप, पुतिन और जिनपिंग तक इन गाड़ियों में सफर करते हैं दुनिया के बड़े नेता

वैज्ञानिक खुद इसका कारण समझ नहीं पाए हैं कि आखिर इस नदी का पानी इतना गर्म कैसे है? यह नदी 25 मीटर चौड़ी और 6 मीटर गहरी है। इस नदी में गिरने से कई जानवरों की मृत्यु भी हो गई है।

अपने फैन को धोनी ने दिया ऐसा तोहफा जिसे पाकर खुशी से झूमने लगा वो

इस नदी के बारे में 1930 से पहले तक कोई नहीं जानता था। 2011 में सरकारी तौर पर इसकी पुष्टि की गई। स्थानीय निवासी इसे समय शनय टिम्पिश्का के नाम से जानते हैं, जिसका अर्थ है सूरज की गर्मी से उबलने वाली नदी। इस नदी के बारे में इस से ज्यादा कोई जानकारी नहीं है।

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Linkedin Join us on Linkedin Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS