वोटर आईडी से लिंक होगा आधार नंबर, चुनाव आयोग को मिलने जा रही कानूनी ताकत

वोटर आईडी से लिंक होगा आधार नंबर, चुनाव आयोग को मिलने जा रही कानूनी ताकत

केंद्र सरकार ने चुनाव आयोग के वोटर आईडी कार्ड को आधार कार्ड से जोड़ने के प्रस्ताव पर सहमति जताई है. इससे फर्जी और डुप्लिकेट वोटरो को हटाने में मदद मिल सकेगी. साथ ही इससे प्रवासी मतदाताओं को रिमोट वोटिंग का अधिकार देने में भी आसानी होगी.

चुनाव आयोग ने मंगलवार को काननू मंत्रालय के साथ हुए बैठक में पेड न्यूज और चुनावी हलफनामे में गलत सूचना देने को अपराध बनाने का भी प्रस्ताव दिया है.


चुनाव आयोग ने जनप्रतिनिधि ऐक्ट में संशोधन का प्रस्ताव दिया. इसके तहत वोटर आईडी कार्ड बनवाने और मतदाता सूची में पहले से शामिल लोगों से आधार नंबर मांगने का प्रावधान होगा.

बताया जा रहा है कि काननू मंत्रालय ने प्रस्ताव को मंजूरी देते हुए आयोग से डेटा को मल्टीपल स्तर पर सुरक्षित करने के निर्देश दिए गए है. चुनाव आयोग ने हाल में डेटा लीक को रोकने के लिए जरूरी कदमों की सूची बनाई है.आयोग ने नए वोटरों के लिए मल्टीपल रजिस्ट्रेशन विकल्प देने की भी बात की है. फिलहाल इसके लिए रजिस्ट्रेशन की तारीख एक जनवरी है.

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Linkedin Join us on Linkedin Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS