मोदी-ट्रंप के 22 किमी लंबा रोडशो के दौरान तैनात रहेंगे 10,000 पुलिसकर्मी

मोदी-ट्रंप के 22 किमी लंबा रोडशो के दौरान तैनात रहेंगे 10,000 पुलिसकर्मी

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के यहां होने वाले रोड शो में 25 वरिष्ठ आइपीएस अफसरों के नेतृत्व में 10,000 से अधिक पुलिसकर्मियों को तैनात किया जाएगा. पहली बार दो दिवसीय यात्रा पर भारत आ रहे ट्रंप अहमदाबाद में एक रोड शो में शामिल होंगे और साबरमती आश्रम का दौरा भी करेंगे. उनका मोटेरा में नवनिर्मित क्रिकेट स्टेडियम के उद्घाटन का कार्यक्रम भी है. पुलिस उपायुक्त (नियंत्रण कक्ष) विजय पटेल ने कहा कि 65 सहायक आयुक्त, 200 निरीक्षक और 800 उपनिरीक्षकों समेत करीब 10 हजार से अधिक पुलिसकर्मी शहर के विभिन्न स्थानों पर तैनात रहेंगे. उन्होंने बताया कि अमेरिकी खुफिया विभाग, राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) और विशेष सुरक्षा समूह (एसपीजी) के अधिकारियों के अलावा बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों की तैनाती की जाएगी. ट्रंप, उनकी पत्नी मेलानिया और प्रधानमंत्री मोदी एक साथ करीब 22 किलोमीटर लंबा रोड शो करेंगे. यह अहमदाबाद अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से शुरू होकर साबरमती आश्रम और इंदिरा ब्रिज होते हुए मोटेरा स्टेडियम तक जाएगा. पुलिस उपायुक्त (नियंत्रण कक्ष) विजय पटेल ने कहा कि यात्रा मार्ग में एनएसजी की एंटी स्नाइपर टीम को भी तैनात किया जाएगा. बम खोजने वाले और बम निरोधक दस्ते पहले से ही पूरे रूट की पड़ताल में जुटे हैं. उन्होंने कहा कि होटलों में ठहरे नए मेहमानों की जानकारी लेने के लिए एक विशेष सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल किया जा रहा है. खासतौर पर विदेश से आए लोगों पर विशेष नजर रखी जा रही है.
गुजरात के पोरबंदर जिले में शुक्रवार रात दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है. यहां एक गांव खेत में बने झोपड़े में अचानक आग लगने से यहां खेल रहे 7 बच्चें गंभीर रुपसे झुलस गये. जिसमें तीन बच्चों की मौत हो गई है. फिलहाल दो बच्चों को इलाज चल रहा है. घटना के बाद पुलिस का काफिला पहुंच गया. पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरु की है. पोरबंदर के हनुमानगढ़ क्षेत्र में स्थित तरसाई गांव की यह घटना है. यहां खेत में बने एक झोपड़े में गत रात सात बच्चे खेल रहे थे. खेल-खेल में बच्चों ने माजिस की सिल्ली से चूल्हें में आग लगाई और एका एक आग भभक उठी. आग की चपेट में बच्चे आ गये. बच्चों की चिख-पुकार सुन आसपास व गांव के लोग पहुंच गये. देखते ही देखते आग 25 फुट उंचाई तक फैल गई. इस दुर्घटना में सात में से दो बालकों ने भागकर जान बचा ली, जबकि पांच बच्चें वहीं ढेर हो गये. जिसमें तीन बच्चों की मौत हो गई . जबकि अन्य दो बच्चे घायल हो गये.


Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Linkedin Join us on Linkedin Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS