भारत में होने वाले पहले डे-नाइट टेस्ट से जुड़े ये 5 सवाल आपके भी मन में होंगे

भारत में होने वाले पहले डे-नाइट टेस्ट से जुड़े ये 5 सवाल आपके भी मन में होंगे

भारत बनाम बांग्लादेश के बीच दो मैचों की टेस्ट सीरीज की शुरुआत 14 नवंबर से हो रही है। भारत दौरे पर आई बांग्लादेश टीम को पहले तीन टी-20 मैच खेलने हैं। इसके बाद दो टेस्ट खेले जाएंगे। पहला टेस्ट तो इंदौर में खेला जाएगा, वहीं दूसरा मैच कोलकाता में होगा। कोलकाता में खेला जाने वाला मुकाबला डे-नाइट टेस्ट होगा, यह भारत में होने वाला पहला डे-नाइट टेस्ट है।

आेस का कितना पड़ेगा असर
टेस्ट क्रिकेट इतिहास में यह 12वां डे-नाइट टेस्ट होगा आैर पहला एेसा डे-नाइट टेस्ट जो लगभग ठंड के मौसम में खेला जाएगा। इससे पहले जो 11 मैच खेले उनमें से 9 तो गर्मियों में हुए जबकि दो मैच दुबर्इ में खेले गए थे जहां ठंड नहीं होती। कोलकाता के र्इडन गार्डन में खेला जाने वाला डे-नाइट टेस्ट ठंड में होना है, एेसे में मैदान में रात में काफी आेस रहेगी। गेंद गीली होने के बाद काफी भारी हो जाएगी। सबसे ज्यादा परेशानी स्पिनर्स को होगी जिनके हाथ से गेंद फिसलेगी। एेसी कंडीशंस में बल्लेबाजी करना आसान आैर गेंदबाजी करना मुश्किल हो जाता है। बता दें भारत में इससे पहले 12 फर्स्ट क्लाॅस मैच डे-नाइट खेले गए, ये सभी मैच अगस्त आैर सितंबर में खेले गए थे। इसके बावजूद गेंदबाजों ने आेस की शिकायत की थी। अब जब डे-नाइट टेस्ट नवंबर में खेला जाएगा तो ठंड काफी बढ़ जाएगी, एेसे में आेस से निपटना एक बड़ी चुनौती होगी।


किस गेंद से खेलेंगे डे-नाइट टेस्ट
टीम इंडिया पहली बार पिंक बाॅल से टेस्ट खेलने जा रही है। भारत बनाम बांग्लादेश सीरीज के लिए बीसीसीआर्इ ने पिंक एसजी बाॅल के इस्तेमाल पर हामी भरी है। वैसे टेस्ट मैच में पिंक या रेड कलर की गेंद से ज्यादा फर्क नहीं पड़ता। मगर पिंक एसजी बाॅल की सबसे बड़ी खामी यह है कि जैसे-जैसे खेल आगे बढ़ता है इसका कलर उतरता जाता है। लाइट में पिंक कलर की गेंद हवा में आॅरेंज कलर की नजर आती है। भारत की तरफ से दलीप ट्राॅफी में डे-नाइट मैच खेल चुके कुलदीप यादव का एक्सपीरियंस कुछ खास नहीं रहा था।

कितने बजे शुरु होगा मैच
डे-नाइट टेस्ट मैच की शुरुआत वैसे तो दोपहर 2:30 बजे होती है मगर र्इडन गार्डन में होने वाला पहला डे-नाइट टेस्ट एक घंटे पहले शुरु किया जाएगा। इस बात की जानकारी क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बंगाल (सीएबी) के सचिव अभिषेक डालमिया ने मंगलवार को दी। मेजबान सीएबी ने कहा कि वे 1pm या 1:30pm पर मैच की शुरुआत करने के लिए BCCI की मंजूरी की मांग करेंगे, जो ओस कारक और दर्शकों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए शुरू होगी। कैब के सचिव ने कहा, “आम दिन / रात के मुकाबलों की तुलना में इस मैच की शुरुआत जल्दी हो सकती है। यह दोपहर 2.30 बजे शुरू नहीं होगी। 1:30 बजे शुरू होने का मतलब होगा कि मैच रात 8:30 बजे तक खत्म हो जाएगा और दर्शक जल्दी घर लौट आएंगे।

दोनों टीमों ने पहले नहीं खेला एेसा टेस्ट
र्इडन गार्डन में होने वाले डे-नाइट टेस्ट को लेकर सबसे बड़ा सवाल यह भी है कि भारत आैर बांग्लादेश दोनों का यह पहला मौका है जब डे-नाइट टेस्ट खेलने जा रहे। दोनों टीमों को इस तरह के टेस्ट का कोर्इ एक्सपीरियंस नहीं है। भारतीय टीम में चेतेश्वर पुजारा, मयंक अग्रवाल, रिषभ पंत आैर कुलदीप यादव ने हालांकि फर्स्ट क्लाॅस डे-नाइट मैच खेला है। इसमें पुजारा ने तो डबल सेंचुरी भी बनार्इ है। वहीं साहा आैर शमी ने पिंक बाॅल से क्लब क्रिकेट खेला। इनके अलावा कोहली, रोहित जैसे धुरंधरों के लिए यह बिल्कुल नया एक्सपीरियंस होगा। यही हाल बांग्लादेश क्रिकेट टीम का है, इनके खिलाड़ियों ने भी इससे पहले इस तरह का टेस्ट नहीं खेला।

क्या जुट पाएगी भीड़
भारत में डे-नाइट टेस्ट मैच कराने का सबसे बड़ा मकसद स्टेडियम में भीड़ जुटाना है। भारत के पास एशेज जैसे कोर्इ टेस्ट सीरीज नहीं है जिसे देखने के लिए हजारों की संख्या में दर्शक आएं। एेसे में बीसीसीआर्इ कुछ नया प्रयोग कर भारत में टेस्ट क्रिकेट की वापसी करना चाहता है। भारतीय क्रिकेट बोर्ड के नए अध्यक्ष बने सौरव गांगुली ने डे-नाइट टेस्ट की वकालत की है। दादा ने भारतीय कप्तान विराट कोहली से बात करके इस पर आखिरी मुहर लगार्इ। वहीं बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड भी डे-नाइट टेस्ट खेलने के लिए राजी हो गया। खैर सब कुछ तैयारी तो हो गर्इ मगर र्इडन गार्डन में भीड़ जुट पाएगी या नहीं, यह देखना रोचक होगा।

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Linkedin Join us on Linkedin Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS