दिल्ली के बाद कोलकाता एयरपोर्ट पर ‘चेक-इन’ 9 घंटे बाद सेवा बहाल सिस्टम हुआ खराब,

दिल्ली के बाद कोलकाता एयरपोर्ट पर ‘चेक-इन’ 9 घंटे बाद सेवा बहाल सिस्टम हुआ खराब,

कोलकाता हवाई अड्डे पर ‘चेक-इन’ प्रणाली सोमवार को तकनीकी खामी के कारण करीब नौ घंटों तक बाधित रहने के बाद बहाल कर ली गई. तकनीकी खामी की वजह से सैकड़ों यात्रियों को परेशानी हुई. हवाई अड्डा निदेशक कौशिक भट्टाचार्य ने मंगलवार को कहा, ‘‘प्रणाली कल (सोमवार) शाम करीब सवा पांच बजे धीमी पड़ गई और इसने काम करना बंद कर दिया. यह देर रात ढाई बजे ठीक हो सकी.’’ कोलकाता हवाई अड्डे ने ट्वीट के जरिए यात्रियों और अन्य का उनके धैर्य के लिए धन्यवाद व्यक्त किया.

ट्वीट में कहा गया है, ‘‘ स्थानीय क्षेत्र नेटवर्क (एलएएन) देर रात करीब ढाई बजे बहाल हो गया. हम अपने यात्रियों, एअरलाइनों और अन्य का उनके धैर्य तथा सहयोग के लिए आभार व्यक्त करते हैं.’’ खराब मौसम की वजह से सोमवार शाम कोलकाता आने वाली पांच उड़ानों का मार्ग भी बदला गया था. भारतीय हवाई अड्डा प्राधिकरण के एक प्रवक्ता ने बताया कि कोलकाता आने वाली उड़ानें तकनीकी खामी की वजह से नहीं, बल्कि गरज और बारिश की वजह से प्रभावित हुईं.


प्रवक्ता ने कहा कि सिंगापुर एअरलाइन की एक उड़ान का मार्ग बदलकर उसे ढ़ाका भेजा गया, जबकि अन्य तीन को भुवनेश्वर और एक उड़ान को लखनऊ भेजा गया. एएआई कोलकाता के नेताजी सुभाष चंद्र बोस अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे समेत देशभर में 100 से अधिक हवाई अड्डों का प्रबंधन करता है. गौरतलब है कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर सोमवार शाम स्थानीय क्षेत्र नेटवर्क में खराबी आ गई थी जिससे ‘चेक-इन’ प्रणाली बाधित हो गई. तकनीकी खराबी की वजह से बोर्डिंग पास ‘मैन्युअल’ तरीके से जारी करने पड़े जिससे करीब 30 उड़ानों में औसतन 20-25 मिनट की देरी हुई. यात्रियों ने हवाई अड्डे पर अव्यवस्था के बारे में सोशल मीडिया पर शिकायतें की.

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Linkedin Join us on Linkedin Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS